New Funny Shayari |Best Funny Status & Sms|फनी शायरी हिंदी में

 here latest comedy shayari we provided the best collection of comedy shayari like hindi comedy, new funny shayari, funniest sms, i, for friend, girlfriend, spouse, funny status for whatsapp and facebook. Share and enjoy our comedy shayari collection in Hindi and English font.
funny shayari

1.
मोहब्बत  में हर  आशिक़  को मरना पड़ता है 
अपने प्यार के लिए ज़माने से लड़ना पड़ता है 
ये जरूरी नहीं की हर घर में सुलभ सोचालय हो 
इमरजेंसी में खुले में भी करना पड़ता है 
30+ Funny Shayari 2019  Best Funny Shayari in Hindi

२. 
जब तुम अपने ललाट पर लाल बिंदी लगाती हो 
भगवान  कसम तुम एम्बुलेन्स  नजर आती हो 
 वो तो घायल आशिक़ को लेकर जाता है 
और तुम हम जैसे आशिको  को घायल कर जाती हो 

३. 
न जाने कब हमारा साथ छूट जाये 
न जाने कब आँखों से आँसू छूट जाये 
कुछ पल हँसा करो यारो 
न जाने कब तुम्हारा दाँत टूट जाये 

४. 
 आज तुम पे आँसुओ की बरसात होगी 
फिर वही कड़कती काली रात होगी 
 sms न करके तूने जो दिल दुखाया मेरा 
जा तेरे बदन पे साडी रात खुजली होगी 
५. 
वो फूल ही क्या जिसमे खुसबू न हो 
वो जाम ही क्या जिसमे नशा न हो 
और 
वो सच्चा आशिक़  ही क्या 
जिसे इश्क में दो चार पड़ी न हो 

६. 
मरना है तो वतन के लिए मारो दोस्तों 
क्यों मरते हो एक दुल्हन के लिए 
खींच कर मारे जाओ गे  इन आशिक़  की गलियों में 
किसी से चंदा भी नहीं मिलेगा कफ़न के लिए 

 फनी शायरी हिंदी में

७. 
कुछ तो था उसके ओठो  पर 
 न जाने हम से क्यों सरमाती थी 
एक दिन हसी तो पता चला 
नालायक तबाकू कहती थी 

८. 
दिल दो किसी एक को 
वो भी किसी नेक को 
मंदिर का प्रसाद नहीं 
जो बाट  दो हर एक को 

 in hindi {August 2019} 60+बेस्ट फनी शायरी हिंदी में

९. 
आलू की सब्जी में नीबू निचोड़ दू 
में तेरी याद में खाना पीना भी छोड़ दू 
तू अब कितना भाव खायेगा यार 
 मेरा दिल करता है तेरे पैजामे में चूहा छोड़ दू 

१०. 
वो बेवफा है तो क्या हुआ 
मत बुरा कहो उसको 
तुम मुझसे सेट हो जाओ 
दफा करो उसको 

११. 
चिरागो में इतना नूर न होता 
तो तनहा दिल मजबूर न होता 
हम आपसे मिलने जरूर आते 
अगर आप का घर इतना दूर न होता 

१२. 
तुम सा कोई दूसरा जमीन पर हुआ 
तो रब से शिकायत होगी 
एक को तो झेला नहीं जाता 
दूसरा आ गया तो क्या हालत होगी  
१३. 
इश्क़ का जिसको खुआब आ जाता है 
समझो उसका वक़्त ख़राब आ जाता है 
मेहबूब आये या न आये 
पर तारे गिनने का हिसाब आ जाता  है 
१४. 
इस कदर  था खटमलों का चारपाई में हुजूम
 वस्ल का दिल से मेरे अरमान रुक्सत हो गया

Post a Comment

0 Comments