Best Top 10+ love shayari in hindi Best hindi with romantic shayari Hindi shayari (2019)

Share:



आपकी चाहत हमारी कहानी है 
ये कहानी इस वक्त की मेहरबानी है 
हमारी मौत का तो पता नहीं पर हमारी 
ये जिंदगी सिर्फ आपकी दीवानी है 


उस नजर की तरफ मत देखो जो 
तुम्हे देखने से इनकार करती है
दुनिया की इस महफ़िल मैं उस नजर 
को देखो जो आपका इंतजार करती है  


उनकी यादों को प्यार करते है 
लाखों जनम उन पर निसार करते है 
अगर राह मैं मिले वो आपसे तो कहना 
उनसे हम आज भी उनका इंतजार करते है 

वो दिल ही क्या जो वफ़ा ना करे 
तुम्हे भूल कर जियूं खुदा ना करे 
रहेगा तेरा प्यार जिंदगी बन कर वो 
बार और है अगर जिंदगी वफ़ा ना करे 


प्यार मैं प्यार को आजमाना नहीं आता 
आजमा कर प्यार कभी पाया नहीं जाता 
प्यार पाने के लिए विश्वास की जरूरत है 
बिना विश्वास प्यार कभी निभाना नहीं आता 



आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी 
साथ गुजरी वो मुलाकात याद आएगी 
पल भर के लिए वक्त ठहर जायेगा 
आज आपको कोई मेरी बात याद आएगी 


 काश तुम ये समझ पाते 
की इस कम्भख्त काश से 
रोज कितना लाडला हूँ मैं 


तेरा प्यार ही मेरी जान है 
शायद इस हकीकत से तू 
अनजान हैमुझे खुद नहीं 
पता मैं कौन हूँ क्यूंकि तेरा 
प्यार ही मेरी पहचान है 


हिचकियाँ कहती है कि  
तुम याद करते हो पर 
बात नहीं करोगे तो 
एहसास कैसे होगा 


हम ने माँगा था उनका 
वो जुदाई का गम दे गए 
हम यादों के सहारे जी लेते 
वो भुल जाने की कसम दे गए 


जिंदगी की थकान मैं 
गुम हो हाय वो लफ्ज 
जिसे सकुन कहते है 


कुछ रिश्ते अनजाने मैं बन जाते है 
पहल दिल से फिर जिंदगी से जुड़ जाते है 
कहते हैं उस दौर को दोस्ती जसमें 
अनजाने ना जाने कब अपने बाण जाते है 


किसी को चाहो तो इस अंदाज से चाहो 
की वो तुम्हे मिले या ना मिले मगर उसे
 जब भी प्यार मिले तो तुम याद आओ 


पैसा कमाने के लिए इतना वकत 
खर्च ना करो की पैसे खर्च करने 
के लिए जिंदगी मैं वक्त ही ना मिले 


आँसू हमारी आँखों मैं कैद थे 
बस तेरी याद आई और इन्हे 
जमानत मिल गयी 


जहा से तेरा मन चाहे वहां से मेरी 
जिंदगी को पढ़ ले तू पत्रा चाहे कोई 
भी हो हर पत्रे पे तेरा ही नांम होगा 


वक्त सबको मिलता है 
जिंदगी बदलने के लिए 
पर जिंदगी दुबारा नहीं मिलती 


दर्द बनकर ही रह जाओ हमारे साथ 
सुना है दर्द बहुत वक्त तक साथ रहते है 
सजदे कीजिये या मांगिये दुआएं 
जो आपका है ही नहीं वो आपका 
होगा भी नहीं 


जब हुई थी मोहब्बत तो लगा 
किसी अच्छे काम का है सिला 
खबर ना थी की गुनाहों की 
सजा ऐसे भी मिलती है 


बहुत दिनों बाद तेरी  महफ़िल मैं 
कदम रखा है मगर नजरो से सलामी 
देने का तेरा अंदाज नहीं बदला 


खेलना अच्छा नहीं किसी के नाजुक 
दिल से दर्द जान जाओगे जब कोई 
खेलेगा आपको आपके दिल से 


उसका वादा भी अजीब था 
की जिंदगी भर साथ निभएगे 
मैंने ये नहीं पूछा की मोहब्बत 
के साथ या यादो के साथ 


यंहा तो लोग अपनी गलती 
नहीं मानते फिर किसी को 
अपना कैसे मानेगे 


कोई अच्छा इलाज बता दे 
जालिम तेरे ख्यालों की 
बीमारी हो गई है 


ना आँखों से छलकते है ना 
कागज़ पर उतरते है दर्द कुछ 
ऐसे है जो बस भीतर ही पालते है 


मुझे घमंड था की मेरे चाहने 
वाले बहुत है इस दुनियां मैं 
बाद मैं पता चला की सब चाहते
है अपनी जरूरत के लिए 


झूम जाते है शायरी के लफ्ज 
बहार के पत्ते की तरह जब 
शुरू होता है बयां ए  हुस्न 
महबूब का मेरे 


दुनिया मैं तेरा हुस्न मेरी जां 
सलामत रहे सदियां तलक जमी 
पे तेरी क़यामत रहे 


गजब का जुल्म ढाया खुदा ने 
मुझे भरपुर इश्क दे कर तुम्हे 
बेइंतहा हुस्न दे कर 


तुम्हारा हसन आराइश तुम्हारी 
सादगी जेवर तुम्हे कोई जरूरत 
ही नहीं बनने संवरने की 


आईने मैं वो देख रहे थे 
बहारे हुस्न आया मेरा 
ख्याल तो शर्मा के रह गये 












No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();