Best Top Sad Shayari Love Shayari In Hindi सेड सायरी लव shayari 2019

Share:




लोग कहते है की चांदनी चढ़ से होती है 
सितारों से नहीं मोहब्बत एक से होती है 
हजारो से नहीं इस पर मुकेश भारती का
कहना है चांदनी चाँद से  होती तो सितारे
क्या करते

 मोहब्बत एक से होती तो हजारो
क्या करते दिल दिया दिलदार को घायल 
बना दिया सोना दिया सोनार को तो पायल
बना दिया जिस दिल्लगी को दिल दिया वो
दिल तोड़ के दिल्ली चली गई मरने की कोसिस
की मगर क्या करे कम्बख्त बिजली चली गई 


लोग गैरो की बात करते हैं हमने अपनों को 
आजमाया है लोग काटो से बच के चलते हैं
हमने फूलो से जखम खाया टूट जाते हैं 
वो रिस्ते जो गरीबी मैं ख़ास होते हैं 
दुसमन दोस्त बन जाते हैं जब पैसे पास होते हैं 



सितम सारे हमारे छांट लिया करो 
नाराज़गी  से अच्छा है डांट लिया करो 
मेरे दिल का दर्द किसने देखा है 
मुझे बस खुदा ने तड़पते देखा है 
हम तन्हाई मैं बैठे रट हैं लोगों ने 
हमे महफ़िल मैं हँसते देखा हैं 


जब भी करीब आता हूँ बताने के किये 
जिंदगी दूरी रखती हैं सताने के लिए 
महफ़िलों की शान न समझना मुझे 
मैं तो अक्सर हँसता हूँ गम छुपाने के लिए 


कभी रो लेने दो अपने कंधो पर सिर रखकर मुझे 
कि दर्द का बवंडर अब संभाला नहीं जाता 
कब तक छुपा कर रखें आँखों मैं इसे 
कि  आंसुओ का समनंदर अब संभाला नहीं जाता 



मेरी मोहोब्बत बेजुबा होती रही  
दिल की धड़कने अपना वजुद रही 
कोई नहीं आया मेरे लिए दुःख मैं करीब 
एक बारिश भी जो मेरे साथ रोती  रही 


कुछ तो सोचा होगा कायनात ने 
तेरे मेरे रिश्ते पर वरना इतनी बड़ी 
दुनिया मैं तुझसे ही बात क्यों होती 


मोहब्बत मुझे थी  सनम यादों मैं 
उसकी यह दिल तड़पता रहा मौत 
भी मेरी चाहत को रोक न सकी
कब्र् मैं भी यह दिल धड़कता रहा 


ना मैं तुम्हे खोना चाहता हूँ 
ना तेरी याद मैं रोना चाहता हूँ 
जब तक जिंदगी है मैं हमेशा 
तुम्हारे साथ रहना चाहता हूँ 


एक तनहा रात मैं आपकी याद आयी 
याद भुलाने के लिए हमने मोमबत्ती जलाई 
उफ़ वो मोमबत्ती क्या क़यामत लायी 
उठते धुएं ने भी आपकी तस्वीर बनायीं 



आ जाओ किसी रोज तुम तो 
तुम्हारी रूह मैं उतर जाऊँ 
साथ रहूँ मैं तुम्हारे ना 
किसी और को नजर आऊँ 
चाहकर भी मुझे कोई छू  ना 
सके मुझे कोई इस तरह 
यौम कहो तो यूं तुम्हारी 
बांहों मैं बिखर जाऊँ  


खुशबू की शुरुआत बाहर से होती है 
दिन की शुरुआत तेरे दीवार से होती है 
हमे इंतज़ार है तेरी सदा का क्युकि  प्यार 
की शुरुआत इंतज़ार से होती है 


जिक्र करता है दिल सुबह शाम तेरा 
गिरते है आँसू  बनता है नाम तेरा 
किसी और को क्यों देखे ये आँखे 
जब दिल पे लिखा सिर्फ नाम तेरा 


हजार बार ली है तुमने तलाशी मेरे दिल की 
बताओ कभी कुछ मिला है इसमें प्यार के सिवा 
कर दे नजरे करम मुझ पर मैं तुझपे एतबार कर दूँ 
तेरे मुस्कुराने का असर सेहत पे होता है 
लोग पूछ लेते है दवा का नाम क्या है 


किसी की जिंदगी सिर्फ दो वजह से बदलती है एक 
कोई बहुत ख़ास इंसान उसकी जिंदगी मैं आ जाये 
दूसरा कोई बहुत ख़ास इंसान उसकी जिंदगी से 
चला जाये इश्क की गहराइयों मैं खूब सूरत क्या है 
मैं हूँ,तुम हो,और कुछ की जरूरत क्या है 



उलझा रही है मुझको यही कश्मकश आजकल 
तू आ बसी है मुझमें या मैं तुझमें कहीं खो गया हूँ 
अच्छा लगता है तेरा नाम मेरे नाम के साथ 
जैसे कोई सुबह जुडी हो किसी हसीन शाम के साथ 










जिंदगी मैं दो ही लोग असफल होते है 
एक वो जो सोचते है लेकिन करते नहीं 
दूसरे वो जो करते है पर सोचते नहीं 


तेरे गिरने मैं तेरी हार नहीं तू इंसान है 
अवतार नहीं गिर-उठ-चल-दौड़-फिर भाग 
क्योंकि जिंदिगी संक्षिप्त है इसका कोई सार नहीं 


अगर जिंदिगी मैं कुछ पाना है 
तो अपने तरीके बदलो इरादे नहीं 


जो चाहा वो मिल जाना सफलता है 
जो मिला है उसको चाहना प्रसन्नता है 


अगर तुममे कुछ करने की इच्छा हो तो 
दुनिया मैं कुछ असंभव नहीं है 


मुश्किलों से भाग जाना आसान होता है 
हर पहलू जिंदगी का इम्तिहान  होता है 
डरने वाले को मिलता नहीं कुछ जिन दगी मैं 
लड़ने वाले के क़दमों मैं जहांन होता है 


शेर आगे छलांग मारने के लिए एक कदम 
पीछे हटाता है इसलिए जब जिंदगी आपको 
पीछे धकेलती है तो घबराये नहीं जिंदगी 
आपको ऊंची छलाँग देने के लिए तैयार है 


जिंदगी मैं आप कितनी बार हारे 
ये कोई मायने नहीं रखता क्योंकि 
आप जीतने के लिए पैदा हुए है 


जिंदगी मैं मुसीबत आये तो कभी 
घबराना मत गिरकर उठने वाले को 
ही बाजीगर कहते है 


जिंदगी मैं रिस्क लेने से कभी मत डरो 
या तो जीत हार भी गए तो सीख मिलेगी 


जिंदगी जीने के सिर्फ दो ही तरीके है 
जो पसंद है उसे हासिल करो नहीं तो 
जो हासिल है उसे पसंद करो 


अरे दुनिया का डर नहीं है जो तुझे उड़ने से 
रोक रहा है कैद तो तू अपने ही नजरिये के 
पिजड़े मैं है अरे रास्तों को मत बदलो 
रास्तों को बनाओ 


अगर तुझे हरने से डर लगता है तो 
जीतने की इच्छा कभी मत करना 


डर मुझे भी लगा फैंसला देख कर 
पर मैं बढ़ता गया रास्ता देख कर 
खुद ब कूद मेरे नजदीक आती गई 
मेरी मंजिल मेरा हौसला देख कर 


जिंदगी मैं कभी किसी को कसूरवार न बनाओ 
अच्छे लोग खुशियां लाते है बुरे लोग तजुर्बा 


क्यों डरे की जिंदगी मैं क्या होगा 
हर वक्त क्यों सोचे की बुरा होगा 
बढ़ते रहे मंजिलों की ओर हम 
कुछ न भी मिला तो क्या 
तजुर्बा तो नया होगा 


जो खो यया उसके लिए रोया नहीं करते 
जो पा लिया  खोया नहीं करते उनके 
ही सितारे चमकते है जो मजबूरियों का 
रोना रोया नहीं करते 


किस्मत मुक़द्दर हांथों की लकीर यह सब 
कमजोर सोच के पिल्लर्स है लिया तो फिर 
तूने अपने माइंड मैं बैठा किया तो फिर कभी 
मजबूत नहीं बन सकती है 


अगर हारने वाला हार ही न माने 
तोह फिर हारने का कोई महत्व  नहीं है 

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();